Loading...

आधी रात को ससुर बना हैवान, जा पहुंचा बहू के कमरे में, फिर हुआ कुछ ऐसा…

0 57

उसने अपने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद किया हुआ था लेकिन वह फिर भी खिड़की के रास्ते से अंदर आ गया. वह कोई और नहीं था बल्कि मेरा ससुर था. ससुर नहीं वह तो असुर है. उसने मेरे साथ जबरदस्ती की है जब मैंने उसकी बात मानने से साफ इनकार कर दिया तो उसने मुझसे कहा कि चुपचाप मेरी बात मान ले वरना फिर.

यह पूरा मामला राजस्थान के चुरू इलाके का है. यहां पर शहर के वार्ड नंबर छह में रहने वाले एक 50 वर्षीय शख्स ने सोमवार की रात को अलग मकान में रहने वाली अपनी 30 वर्षीय बहू के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया. वहीं जब बहू ने उसकी इस बात का विरोध किया तो ससुर ने असुर बन उसके शरीर को चाकू से गोद डाला. उसने उसके ऊपर चाकू से तब तक वार किए जब तक की वह बेसुध नहीं हो गई.

इस पूरे मामले को लेकर पुलिस ने बताया कि डीबी अस्पताल में भर्ती महिला के बयान के आधार पर आरोपी ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. खून ज्यादा बह जाने की वजह से महिला की हालत काफी गंभीर है. पुलिस को बयान देने के बाद महिला बेहोश हो गई. पुलिस को दिए गए बयान में पीड़िता ने बताया कि उसके ही ससुर ने उस पर चाकू से ताबड़तोड़ वार किए. वही जब इस बात के बारे में आस-पास के लोगों को भी पता चल गया तो आरोपी ने जहर खा लिया और उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई.

Loading...

पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी को 11 साल हो चुके हैं. बीते 4 साल से वह अपने सास-ससुर से बिल्कुल अलग रह रही थी. वह अपने पति और बच्चों के साथ रहती है. महिला के 2 बच्चे हैं और पति 4 दिन से जयपुर गया हुआ है. इसी बात का फायदा उठाकर सोमवार की रात को ससुर पीड़िता के घर में घुस गया. वही जब उसने उसके आने का कारण पूछा तो उसने बताया कि वह बच्चों के साथ सोने आया है. रात के 11:00 बजे थे उस समय पीड़िता ऊपर के कमरे में जाकर सो गई और अंदर से कुंडी लगा ली, लेकिन तभी रात को ससुर बच्चों के पास से उठा और उसके कमरे में पहुंच गया. देर रात वह खिड़की से दबे पांव बहू के कमरे में घुस गया और उसके पास जाकर लेट गया.

वही जब पीड़िता को इस बात का एहसास हुआ तो उसने अपने ससुर का विरोध किया और उसे कमरे से बाहर जाने के लिए बोला, लेकिन उस ससुर की नियत में तो खोट था. उसने बहू की इस बात पर बोला कि मैं तेरे साथ गलत काम करूंगा और तेरे पति को इसलिए जयपुर भेजा है. इतना कहते ही वह अपनी बहू के ऊपर भूखे भेड़िए की तरह टूट पड़ा. जब ससुर उसके साथ जबरदस्ती करने लगा तो पीड़िता ने उसे जोरदार धक्का देकर बिस्तर से नीचे फेंक दिया और तेज-तेज चिल्लाने लगी, तभी अचानक उसने बहू को डराने के लिए चाकू निकाल लिया और उससे कहने लगा कि मेरी बात मान जा नहीं तो तुझे जान से मार दूंगा. आज मैं तेरे साथ गलत काम करके ही रहूंगा. वही जब बहू ने इस बात का विरोध किया तो उसने चाकू से उसके ऊपर इतने वार किए जब तक की वह बेसुध नहीं हो गई.

ससुर ने राक्षस बन पीड़ित महिला के सिर, माथे, गले, पीठ, चेहरे, कोहनी, दोनों हाथों पर तवातोड़ वार किए. जब महिला दर्द के मारे तेज-तेज करहाने लगी तो उसके बच्चे भी उसका शोर सुनकर उठ गए. महिला को दर्द से करहाता देख उसके बच्चे भी तेज-तेज रोने लगे. इतने में ससुर छत से नीचे कूद कर वहां से भाग गया. इसके बाद महिला जैसे तैसे पड़ोसियों के पास पहुंची तो उन लोगों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया. महिला के शरीर पर 50 से भी ज्यादा जख्म है और उन जख्मों को भरने के लिए डॉक्टरों को उसके शरीर पर 275 टांके लगाने पड़े. वही सर्जन डॉक्टर संदीप अग्रवाल ने बताया कि केवल महिला के सिर पर ही 50 से ज्यादा घाव हैं और उन घाव को भरने के लिए 275 से भी ज्यादा टांके लगाने पड़े.

बहू के ऊपर चाकू से ताबड़तोड़ वार करने के बाद आरोपी ने भी जहर खा लिया. आरोपी ससुर की जहर खाने से मौत हो गई. मृतक के भाई ने रिपोर्ट दी है कि उसका बड़ा भाई खाना खाने के बाद अपने बेटे के घर चला गया था. रात को करीब 2:00 बजे भाभी का फोन आया कि उसने कुछ खा लिया है. जिसकी वजह से उसकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई है. वह अपने भतीजे को लेकर वहां पहुंचा तो भाई के मुंह से झाग निकल रहे थे. बेहोशी की हालत में उसे डीबी अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया. जहां इलाज के दौरान आरोपी ससुर की मौत हो गई.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.