Loading...

हाथी के मल बनाई जाती है ये Coffee, कीमत जानकर रह जाओगे हैरान

0 45

यह तो शायद आपने हाल ही में खबरों में पढ़ा होगा कि असम की चाय ने एक नीलामी में वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है. जी हां असम में हुई नीलामी के दौरान एक चाय 39001 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से नीलाम हुई. यह अब तक की सबसे महंगी चाय है. केवल चाय ही नहीं कॉफी भी कीमत के मामले में आपको हैरान कर देगी, क्योंकि यह कॉफी आम कॉफी नहीं होती है.

वहीं अगर ब्लैक आइवरी ब्लैंड कॉफी (Black Ivory Coffee) की बात की जाए तो इस कॉफी को दुनिया के रहीस ही पीना पसंद करते हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि इतनी महंगी कॉफी को सिर्फ रईस लोग ही अफोर्ड कर सकते हैं. इस कॉफी की कीमत जानने के बाद आप हैरान के हैरान रह जाएंगे. आपको इस बात पर बिल्कुल यकीन नहीं होगा. आप अपने घर में जो कॉफी पीते होंगे उस कॉफी की कीमत 100 रुपए, 200 रुपए, 500 रुपए तक हो सकती है. लेकिन आपको बता दें कि ब्लैक आइवरी ब्लैंड कॉफी दुनिया की सबसे महंगी कॉफ़ी में से एक मानी जाती है.

आपको बता दें कि ब्लैक आइवरी कॉफी की कीमत 1100 डॉलर यानी कि 67000 रुपए प्रति किलो है. अब आपको इस कॉफी की कीमत के बारे में तो पता चल गया, लेकिन इस कॉपी में आखिर ऐसा खास क्या है जिसकी वजह से इसकी इतनी ज्यादा कीमत है. तो आपको बता दें कि इस कॉपी को बनाने की प्रक्रिया ऐसी है कि जिसकी वजह से इस कॉफी की कीमत इतनी ज्यादा बढ़ जाती है. ब्लैक आइवरी कॉफी की ऑफिशियल वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार इस कॉपी को हाथी के मल यानी की लीद से बनाया जाता है. ब्लैक आइवरी कॉफी को तैयार करने की शुरुआती प्रक्रिया बेहद अचंभित करने वाली है. सबसे पहले हाथी को काफी ज्यादा मात्रा में कॉफी के कच्चे फल खिलाए जाते हैं, हाथी इसे पचाने के बाद पॉटी (लीद) कर देता है.

Loading...

इसके बाद हाथी की उस लीद को इकट्ठा कर लिया जाता है, फिर उस लीद में कॉफी के बीजों को ढूंढा जाता है. एक हाथी को करीब 33 किलो कॉफी के कच्चे फल खिलाए जाते हैं, लेकिन लीद से केवल 1 किलो कॉफी के बीच ही निकाले जाते हैं. हाथी के लीद से निकले कॉफी के बीज को धूप में काफी अच्छी तरीके से सिखाया जाता है. इसके बाद इस बीच को पीसा जाता है. फिर इसे ब्लैक आइवरी कॉफी के लिए तैयार कर दिया जाता है.

पीने में ब्लैक आइवरी कॉफी बिल्कुल भी कड़वी नहीं है. आपको बता दें कि इस महंगी कॉफी को थाईलैंड में बहुत बड़े पैमाने पर तैयार किया जाता है और इसे दुनिया की सबसे महंगी कॉफी में से एक माना जाता है. आपकी जानकारी के लिए आपको यह भी बता दें कि इस दुनिया की सबसे महंगी कॉफी लूवक है और उस कॉफी को भी जानवर की पॉटी से ही बनाया जाता है. और इस कॉफी की कीमत 2 लाख रुपए प्रति किलो है. हाथी की लीद से कॉफी के बीज को निकालने का काम एक्सपोर्ट करते हैं.

कॉफी के बीज को हाथी की लीद से अलग करने के बाद धूप में सुखाया जाता है और उसके बाद उन्हें मार्केट में अच्छी खासी कीमत पर बेच दिया जाता है. इस प्रकार से एक महंगी कॉपी बनकर तैयार कर दी जाती है. जो बात हैरान करती है वह यह है कि इस कॉपी में कड़वापन नाम मात्र को नहीं होता है. वही कहा तो यह भी जाता है कि पाचन क्रिया के वक्त हाथी के एंजाइम काफी के प्रोटीन को तोड़ देते हैं. प्रोटीन टूटने के बाद कॉफी में जो कड़वापन होता है वह लगभग मानो कि खत्म सा हो जाता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.