Loading...

बेटी ने मां को बताया पिता ने किया उसका रेप, लेकिन मां ने कहा कुछ ऐसा

0 65

चंडीगढ़ का एक मामला सामने आया है। जहां पर एक हैवान पिता ने अपनी ही बेटी को अपनी हवस का शिकार बनाया। वहीं इस पूरे मामले में कोर्ट ने उस हैवान पिता को दोषी ठहराया है और 15 साल की सजा सुनाई है। वहीं इस पूरे मामले में कई ऐसे भी तथ्य सामने आ गए जिन्हें जानने के बाद हर कोई हैरान का हैरान रह गया।

मिली जानकारी के अनुसार ये मामला अक्टूबर 2017 का है। पीड़ित लड़की स्कूल से लौटकर वापस घर आई तो अचानक ही उसके पेट में दर्द होना शुरू हो गया तो पीड़ित की मां उसे तुरंत ही अस्पताल ले जाने लगी। लेकिन बेटी ने रास्ते में ही मां को कुछ ऐसा बताया की जिसे सुनने के बाद महिला के रोंगटे खड़े हो गए। दरअसल बेटी ने अपनी मां को बताया कि 2 दिन पहले जब उसके घर पर कोई नहीं था तो पापा ने उसके साथ इस गलत हरकत को किया था। इसके साथ ही बेटी ने यह भी बताया कि पापा ने यह भी कहा था कि अगर इसके बारे में किसी को भी बताया तो तुम्हारी पिटाई कर दी जाएगी।

इसके बाद ही महिला ने 16 अक्टूबर 2017 को अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा दी थी की वह अपनी 7 साल की बेटी के साथ ऐसी गंदी हरकतें करता है। शिकायत में यह भी कहा गया था कि वह एक प्राइवेट नौकरी करता है और उसके दो बच्चे हैं जिसमें बेटी की उम्र 7 साल है तो वही बेटे की उम्र 8 साल है। एक दिन महिला ने अपने काम से छुट्टी कर ली और उस दिन वह घर पर ही मौजूद थी और उसी दिन सारी सच्चाई खुलकर सामने आ गई। वही महिला के द्वारा शिकायत दर्ज किए जाने के बाद पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ आईपीसी की धारा 376(2)(एफ)(आई) और पॉक्सो एक्ट की धारा 6 और 8 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Loading...

तो वहीं जिला अदालत की एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एवं सेशन जज पूनम आर जोशी की कोर्ट ने भी उस आरोपी हैवान पिता को आईपीसी की धारा 376(2)(एफ)(आई) और पॉक्सो एक्ट की धारा 6 के दोषी ठहराया है। इसके साथ ही कोर्ट ने उस आरोपी हैवान पिता के ऊपर एक लाख 5 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। वहीं आरोपी के खिलाफ सजा सुनाते हुए जज ने कहा कि एक पिता के द्वारा अपनी बच्ची के साथ किए गए ऐसे कृत्य में नरमी बरतने की तो बात ही नहीं होती और ना ही आरोपी के खिलाफ सजा में नरमी बरती जा सकती है।

लेकिन वही कोर्ट में बयान देने के समय बच्ची की मां अपने बयानों से मुकर गई। लेकिन उस 7 साल की बच्ची ने अपने बयान किसी भी कीमत पर नहीं बदले। कोर्ट के द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद बच्ची की मां ने रोते हुए कहा कि उसका पति बेकसूर है शिकायत तो डॉक्टर ने की थी जिसके पास वह अपनी बेटी का चेकअप करवाने के लिए आई थी। इसके साथ ही पीड़िता की मां ने यह भी कहा कि पुलिस ने उससे यह भी कहा कि अगर वह शिकायत नहीं करेगी तो उसे फसा दिया जाएगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.