Loading...

अगर आपको नहीं उठानी है कॉल तो आपकी जगह गूगल असिस्टेंट करेगा बात

0 33

टेक्नोलॉजी की दुनिया में सबसे बड़ी कंपनी माने-वाली गूगल ने अपनी एनुअल कॉन्फ्रेंस में वर्चुअल गूगल असिस्टेंट को लेकर एक बड़ी घोषणा कर दी है। इस योजना के अंतर्गत Google आने वाले भविष्य में मशीन लर्निंग और टेक्नोलॉजी के साथ आगे बढ़ने वाली है। टेक्नोलॉजी में गूगल ने Google assistant के साथ अपने अन्य प्रोडक्ट को भी शामिल किया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Google जल्द ही गूगल असिस्टेंट में आपको एक खास फीचर देने वाली है। जिसमें AI तकनीकी का उपयोग करके यूजर की तरफ से Google फोन पर बात भी करेगा। इसके लिए Google एक खास टेक्नोलॉजी का उपयोग करने वाला है और इस टेक्नोलॉजी का नाम गूगल डुप्लेक्स है। Google इस टेक्नोलॉजी के जरिए गूगल असिस्टेंट को तकनीकी रूप से इतना संभव बना देगा ताकि वह इंसानों की जगह खुद फोन पर बात कर पाए। इतना ही नहीं गूगल असिस्टेंट खुद कॉल करके व्यक्ति के लिए जगह, होटल या फिर सैलून की बुकिंग भी आसानी से कर सकेगा।

Google अपने प्रोडक्ट गूगल असिस्टेंट को कुछ इस तरह से डिजाइन करने वाला है ताकि वह बोलचाल की सामान्य भाषाओं को बड़ी आसानी के साथ समझ पाए। फिलहाल तो Google अपनी इस टेक्नोलॉजी के ऊपर पूरा काम कर रहा है। इस टेक्नोलॉजी को जल्द ही गूगल बिजनेस और सामान्य यूजर्स के लिए लाने वाला है। वही आपको बता दें कि गूगल ने गूगल असिस्टेंट में भी बदलाव किए और 6 नई वॉइस दी है। इसके साथ ही Google की यह भी हर संभव कोशिश है कि गूगल असिस्टेंट की आवाज को बिल्कुल इंसानों की आवाज की तरह ही बनाया जाए। ताकि बातचीत के दौरान यूजर उसकी बातों को काफी अच्छी तरीके से समझ पाए।

Loading...

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ग्लोबली गूगल असिस्टेंट को करीब 50 करोड़ डिवाइस में उपयोग किया जा रहा है। वही साल की शुरुआत में ही भारत में गूगल असिस्टेंट के यूजर 3 गुना बढ़ चुके हैं। मौजूदा समय में Google का प्रोडक्ट गूगल असिस्टेंट करीब 30 भाषाओं में दुनिया के 80 देशों में यूज किया जा रहा है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.