Loading...

अगर आप होम्योपैथिक दवाई लेते हैं तो उससे पहले जान लें इन बातों के बारे में

0 43

देखा जाए तो बाजार में मौजूदा समय में सबसे ज्यादा डिमांड आयुर्वेदिक और एलोपैथिक दवाओं की है। और कई लोग ऐसे भी हैं जिन्हें होम्योपैथिक दवा के इलाज पर पूरा भरोसा होता है। होम्योपैथिक दवाई को लेकर कहा जाता है कि इन दवाओं का असर बाकी दवाओं से थोड़ी देर में होता है। लेकिन होम्योपैथिक दवाई से आपके शरीर को किसी भी प्रकार का हानिकारक नुकसान नहीं होता है।

इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि होम्योपैथिक दवाओं को लेने के लिए अलग नियम और कायदे भी होते हैं। और इन नियम-कायदों का खास ध्यान रखना होता है। वरना यह होम्योपैथिक दवाएं आपको फायदा नहीं बल्कि नुकसान पहुंचा देती हैं। तो चलिए अब आपको बताते हैं कि आपको खास तौर पर किन बातों का ध्यान रखना है। अगर आप होम्योपैथिक दवाओं का सेवन करते हैं तो इन बातों का जरूर ध्यान रखें।

● आप कभी भी होम्योपैथिक दवा की शीशी को किसी भी खुली जगह पर ना रखें। आप होम्योपैथी दवा की शीशी को हमेशा ठंडी जगह पर ही रखें। चाहे वह दवा एक लिक्विड के रूप में हो या फिर गोलियों के रूप में हो। अगर आप इन दवा को खुले में रखते हैं तो इनका असर बेअसर हो जाता है।

Loading...

● आपको कभी भी होम्योपैथी दवा को अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए। दरअसल आप होम्योपैथिक दवा का सेवन करने के लिए या फिर गोलियों को गिनने के लिए उस शीशी के ढक्कन का ही उपयोग करें।

● होम्योपैथी दवाओं को खाने का एक अलग नियम होता है। जिसको जानना सबसे ज्यादा जरूरी है। नियम यह है कि आप दवा को खाने के 30 मिनट बाद या फिर खाने के आधे घंटे पहले तक कुछ भी ना खाएं और ना ही पिएं। इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि इस नियम को हाफ एन अवर रूल भी कह सकते हैं।

● अगर आपका होम्योपैथिक दवाओं का इलाज चल रहा है तो आप अपने फूड चार्ट पर भी खास ध्यान दें। दरअसल आपको बता दें कि लहसुन, अदरक और प्याज जैसी चीजों को खाने से पहले आप इस बारे में एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह ले लें। क्योंकि होम्योपैथिक दवाओं के इलाज में इन चीजों का परहेज सबसे ज्यादा जरूरी होता है।

● अगर आप का इलाज होम्योपैथी दवाओं के द्वारा हो रहा है तो आप कभी भी उन दवाओं के साथ एलोपैथिक और आयुर्वेदिक दवाओं को बिल्कुल भी ना मिलाएं। अगर कोई हार्ट या ब्लड प्रेशर या डायबिटीज का मरीज है। उसको दवा को छोड़ने या फिर उसमें कोई और दवा जोड़ने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लेनी चाहिए।

● इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि जिस किसी का भी होम्योपैथी दवाओं का इलाज चल रहा है। उसको इमली और खट्टी चीजों से बिल्कुल परेज करना चाहिए। अगर आप इन चीजों को करेंगे तो आपको कई साइड इफेक्ट देखने के लिए मिल सकते हैं। या फिर जिस इलाज के लिए आप होम्योपैथिक दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो ऐसे में होम्योपैथिक दवाओं का पूरा असर नहीं होता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.