Loading...

स्कूल की छात्रा ने अपनी सहेली को सबक सिखाने के लिए किया कुछ ऐसा

0 32

एक कान्वेंट स्कूल की छात्रा की फेसबुक id से लड़कों से चैटिंग करी जाने लगी। और इस बात की जानकारी उस छात्रा को नहीं थी। पर जब इस बात की जानकारी उस छात्रा को लग गई। तो उसकी हवाइयां उड़ गई। उसने इस पूरे मामले की शिकायत तुरंत साइबर सेल से कर दी। और वहीं साइबर सेल ने जब इस पूरे मामले की जांच की। और जो सामने निकल कर आया। वह बेहद चौंकाने वाला था। दरअसल छात्रा के साथ पढ़ने वाली दूसरी छात्रा ने ही उसकी फेसबुक ID बनाई थी। फिलहाल साइबर सेल ने छात्रा की उस फेसबुक आईडी को बंद कर दिया है।

दरअसल यह पूरा मामला आगरा के थाना हरीपर्वत क्षेत्र का है। यहां पढ़ने वाली सातवीं कक्षा की दो छात्राओं के बीच विवाद चल रहा था। और इन दोनों छात्राओं के क्लास सेक्शन भी अलग-अलग है। वहीं एक छात्रा ने दूसरी छात्रा को कड़ा सबक सिखाने के लिए यह सब कर डाला। सबसे पहले उसने अपनी साथी छात्रा के नाम से Facebook पर एक फर्जी ID बनाई। ID बनाने के बाद उसने उसी छात्रा की तस्वीरें फेसबुक लगा दी। फोटो लगाने के बाद उसने साथी लड़कों से चैटिंग करनी शुरू कर दी। वही छात्रा के साथी लड़को ने जब उस पर कमेंट करना शुरू कर दिया। कि आजकल तो तुम Facebook पर बहुत ज्यादा एक्टिव रहती हो। जब छात्रा ने यह सब कमेंट सुनी तो वह चौक गई।

दरअसल फेसबुक पर छात्रा की जिस ID से लड़कों से बातचीत हो रही थी। उस ID को छात्रा ने नहीं बनाया था। उसने इस पूरे मामले को पहले तो अपने घर वालों को बताया। तो घर वालों ने तुरंत इस सब की शिकायत हरीपर्वत पुलिस से कर दी। और साथ ही साथ साइबर सेल से भी इस मामले की शिकायत की। और वही शिकायत मिलने के बाद साइबर सेल ने उस मोबाइल नंबर को ट्रेस कर लिया। जिस से छात्रा की वह फर्जी ID बनाई गई थी। वही जब इस नंबर पर कॉल करी गई तो पता चला कि वह कोई और नहीं बल्कि छात्रा की क्लासमेट थी। वहीं साइबर सेल ने फेसबुक पर बनाई गई। छात्रा की उस फर्जी ID को बंद कर दिया है। वही साइबर सेल ने जब उस फर्जी ID बनाने वाली छात्रा का नाम बताया। तो पीड़ित छात्रा के परिजनों ने कार्रवाई करने से साफ इंकार कर दिया। इसके बाद छात्रा के परिजनों ने इस सब की शिकायत फर्जी ID बनाने वाली छात्रा के परिजनों से की। और साथ ही साथ दोबारा ऐसी हरकत ना करने की चेतावनी भी दे दी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.