Loading...

डूडल बनाकर गूगल ने भी मनाया भारत का 69 वां गणतंत्र दिवस

0 13

डूडल बनाकर गूगल ने भी भारत के 69वें गणतंत्र दिवस को मनाया। Google के द्वारा बनाए गए डूडल में भारत के सभी राज्यों के रंगों और उनकी संस्कृति समृद्धि को उकेरा गया है। Google के द्वारा बनाए गए डूडल के शुरुआती भाग में देश के शिल्प, संगीत और पारंपारिक प्रथाओं के प्रतीक को दिखाया गया है। Doodle में एक व्यक्ति प्राचीन संगीत वाद्ययंत्र सिंगा के साथ दिखाई दे रहा है। Google के द्वारा गणतंत्र दिवस के मौके पर बनाए गए Doodle में परंपरागत कठपुतलियों को भी दिखाया गया है।

Google ने गणतंत्र दिवस के मौके पर इस डूडल में असम के बिहू नृत्य को भी दिखाया है। साथ ही इसमें राजसी हाथी भी दिख रहे हैं। इस डूडल में मुगल वास्तुकला का एक नमूना भी पेश किया गया है। जोकि समग्र रूपरेखा और रूपांकनो को दिखाता है।

सभी भारतीयों की तरह गूगल ने भी डूडल बनाकर भारत के 69 वें गणतंत्र दिवस के जश्न को मनाया है। गणतंत्र दिवस भारत का एक राष्ट्रीय पर्व है। जो कि पूरे भारतवर्ष में 26 जनवरी के दिन मनाया जाता है। यह तो शायद आपको पता ही होगा। कि सन 1950 में इसी दिन भारत का संविधान लागू किया गया था। स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज स्थापित करने के लिए 26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा संविधान अपनाया गया। और इस संविधान को 26 जनवरी 1950 को एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के द्वारा लागू किया गया।

Loading...

इसके साथ ही आपको यह बता दे कि आखिर 26 जनवरी को ही क्यों चुना गया। क्योंकि सन 1930 में 26 जनवरी को ही भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया गया था। इसी वजह से 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। भारत सरकार के द्वारा जिन तीन राष्ट्रीय अवकाशों को घोषित किया गया है। उनमें से एक गणतंत्र दिवस भी है। और बाकी दो अन्य स्वतंत्र दिवस और गांधी जयंती है। भारतवर्ष में पहली बार गणतंत्र दिवस साल 1950 में मनाया गया। और हमारे देश को संविधान और डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद के रूप में पहले राष्ट्रपति 26 जनवरी 1950 को ही मिले थे। भारत के पहले गणतंत्र दिवस को मनाते हुए। भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद ने इरविन स्टेडियम में भारतीय तिरंगा लहराते हुए पहला गणतंत्र दिवस मनाया था।

गणतंत्र दिवस के मौके पर अतिथियों को बुलाने की परंपरा साल 1950 से ही शुरू हुई थी। और भारत के पहले गणतंत्र दिवस पर अतिथि थे। इंडोनेशिया के तत्कालीन राष्ट्रपति सुकर्णो। यह भारत के पहले गणतंत्र दिवस समारोह के मौके पर मुख्य अतिथि बनकर आए थे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.