Loading...

7 माह की गर्भवती महिला से किया सामूहिक दुष्कर्म और उसके बाद निवस्त्र कर फेंका

0 85

दरिंदगी की सारी हदें पार कर देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल यह पूरा मामला उझानी कोतवाली क्षेत्र के कछला गंगा की कटरी में बसे एक गांव का है। यह घटना इतनी भयानक है। कि रूह ही कांप जाए। शौच के लिए जा रही 7 महीने की गर्भवती महिला को तीन लोगों ने रास्ते में ही दबोच लिया। इसके बाद यह तीनों लोग महिला को उठाकर सरसों के खेत में ले गए। जहां इन तीनों लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म जैसी घटना को अंजाम दिया। वही महिला के द्वारा विरोध करने पर तीनों दरिंदे ने महिला को निर्वस्त्र कर हाथ पैर बांध कर डाल गए। वही पीड़ित महिला को बेहोश और निर्वस्त्र हालत में देखकर सभी लोगों के होश उड़ गए। इसके बाद तुरंत महिला को जिला अस्पताल ले जाया गया। महिला की हालत काफी नाजुक बनी हुई है। इसी को देखते हुए तुरंत जिला अस्पताल से महिला को बरेली के लिए रेफर कर दिया गया है।

पीड़ित महिला शुक्रवार की सुबह करीब 5:00 बजे घर के ही पास में मौजूद पशुशाला में गई थी। वहां जानवरों को चारा डालने के बाद। महिला पास के ही एक खेत में शौच करने के लिए चली गई। जैसे ही पीड़िता खेत के पास पहुंची। तो वहां मौजूद तीन अज्ञात लोगों ने उसे दबोच लिया। वहीं पीड़ित महिला ने शोर मचाने की काफी कोशिश की। लेकिन दरिंदों ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। और इसके बाद तीनों दरिंदो ने बारी-बारी से पीड़िता के साथ तब तक दुष्कर्म किया। जब तक की पीड़िता महिला बेहोश ना हो गई। वही महिला जब बहुत देर तक अपने घर पर वापस नहीं पहुंची। तो महिला के परिजन उसे पशुशाला में देखने गए। परिजनों को वह वहां भी नहीं मिली। तो महिला के परिजनों ने उसे आसपास ढूंढा। इसी बीच लोगों की नजर पड़ी तो उस नजारे को देखकर सभी हैरान रह गए। वहीं इस सब की पूरी सूचना तुरंत महिला के परिजनों ने पुलिस को दे दी। इस पूरी घटना को सुनने के बाद पुलिस के भी होश उड़ गए। पीड़िता को उसके परिजन तुरंत जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। और इस पूरे मामले की सूचना मिलने के बाद तुरंत एसपी सिटी कमल किशोर, सदर कोतवाल अजय यादव भी जिला अस्पताल पहुंच गए। वहीं इस पूरे मामले पर पुलिस को अभी कोई तहरीर नहीं दी गई है। दरअसल पीड़िता के परिजनों ने कहा कि महिला के होश में आ जाने के बाद ही वह पुलिस में कोई तहरीर देंगे।

वही उझानी कोतवाली इंचार्ज राजीव कुमार शर्मा ने कहा कि यह घटना बेहद गंभीर है। और पीड़िता के परिजन सामूहिक दुष्कर्म की बात कह रहे हैं। वहीं उन्होंने आगे कहा कि इस मामले के संबंध में अभी कोई भी तहरीर पुलिस को नहीं दी गई है। जब पीड़िता की तरफ से पुलिस को कोई तहरीर दी जाएगी। तो तुरंत मामला दर्ज करके इस बात का खुलासा किया जाएगा। और आरोपियों को बख्शा नही जाएगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.