Loading...

​अमेरिका में जहरीला इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुला दिया जाएगा इस भारतीय को

0 21

जहरीला इंजेक्शन देकर रघुनंदन यांदामुरी को मौत की नींद सुलाने की तारीख तय हो गई है। 32 साल के रघुनंदन यांदामुरी पर साल 2014 में हत्या का आरोप साबित हो गया था। और रघुनंदन को मृत्युदंड दिया गया था। अब वह तारीख आ गई है। रघुनंदन को 23 फरवरी को जहरीला इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुला दिया जाएगा।

दरअसल रघुनंदन के ऊपर दो हत्याओं का आरोप था। और यह आरोप कोर्ट में साबित हो गया था। रघुनंदन यांदामुरी ने साल 2012 में 61 वर्षीय सत्यरति बन्ना और उनकी 10 साल की पोती सानवी की हत्या कर दी थी। वहीं पुलिस ने इस मामले को लेकर कहा कि यह दोनों हत्याएं किडनैपिंग की योजना नाकामयाब हो जाने के बाद की गई थी। रघुनंदन ने उन दोनों का अपहरण फिरौती मांगने के लिए किया था। और जिसको वह संभाल नहीं पाया। मामला खुल जाने के डर से रघुनंदन ने उन दोनों को जान से मार डाला।

रघुनंदन वह पहले भारतीय व्यक्ति हैं। जिनको अमेरिका में मौत की सजा दी जाएगी। वैसे आपको बता दें कि रघुनंदन भारत के आंध्र प्रदेश के रहने वाले हैं। रघुनंदन अमेरिका एच1बी वीजा पर गए थे। रघुनंदन के पास इलेक्ट्रिकल और कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग की डिग्री है। रघुनंदन पर साल 2014 में आरोप साबित हो गए थे। रघुनंदन ने कोर्ट से अपने लिए खुद मौत की सजा मांगी थी। हालांकि बाद में रघुनंदन ने इसके खिलाफ अपील भी करी थी। कोर्ट ने पिछले साल अप्रैल महीने में रघुनंदन के द्वारा की गई अपील को रद्द कर दिया। वही अब रघुनंदन को जहरीले इंजेक्शन द्वारा मौत की नींद सुला देने की तारीख नजदीक आ गई है।

रघुनंदन को मौत की नींद सुलाने की तारीख भले ही डिक्लेयर हो गई हो। लेकिन लोगों कहना है कि वह अभी भी बच सकते हैं। दरअसल पेनसिलवेनिया के गवर्नर टॉम वुल्फ ने मौत की सजा पर रोक लगा रखी है। आपको बता दें कि पेनसिलवेनिया में 20 सालों से किसी को भी मौत की सजा नहीं मिली है। ऐसे में देखा जाए तो इस बात की पूरी संभावना है। कि रघुनंदन की मौत की सजा टल सकती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.