Loading...

​युवतियां कस्टमर को ऐसे बनाती थी शिकार, पकड़ी गई तो ऐसे मुंह छुपा कर बैठ गई

0 135

एसटीएफ ने मेरठ मैं एक फर्जी फाइनेंस कंपनी पर छापा मारा और छापे के दौरान जो नजारा देखा। उसे देख कर अधिकारी भी हैरान रह गए। उस कंपनी में मौजूद युवतियां पुलिस को देख कर अपना चेहरा छुपा कर बैठ गई। पुलिस ने इस फर्जी कंपनी से 32 युवतियां समेत 26 युवकों को गिरफ्तार किया है। इन युवतियों को 4000 रुपए महीना सैलरी मिलती थी। और इन युवतियों को काम था। लोगों को अपने जाल में फंसाना। यह युवतियां लोगों को बिना कागजात और सस्ती ब्याज दरों पर लोन दिलाने का झांसा देकर फंसाती थी। और साथ ही जब कोई युवति किसी व्यक्ति को अपने जाल में फंसा लेती थी। तो उसे इंसेंटिव भी दिया जाता था। इस फर्जी फाइनेंस कंपनी में काम करने वाली ज्यादातर युवतियां इंटर तक पढ़ी हुई है। और इनमें से कई युवतियों को तो यह भी नहीं पता था। कि यह फाइनेंस कंपनी एक फर्जी कंपनी है। और उनसे कोई लोन का काम नहीं बल्कि ठगी का काम कराया जा रहा है।

वहीं एसटीएफ ने बताया कि छापेमारी में इस फर्जी कंपनी में 32 लड़कियां पकड़ी गई है। और इस कंपनी में इतनी लड़कियां क्यों है। यह जांच का विषय है। वहीं इस पूरे मामले पर महिला पुलिस ने कई लड़कियों से पूछताछ भी कि उनको दूसरे स्थानों पर तो नहीं भेजा जाता था। हालांकि इस पूरे मामले में कोई भी ऐसी बात सामने नहीं आई है जो कि गलत हो।

यह फर्जी कंपनी इसलिए आसानी से चल पा रही थी। क्योंकि इस फर्जी कंपनी को चलाने वाले लोगों की स्थानीय पुलिस से अच्छी सांठगांठ होती है। जिसकी वजह से ही स्थानीय पुलिस ने कभी भी इस फर्जी कंपनी के ऑफिस की तरफ कोई रुख नहीं किया। अवतार फाइनेंस कंपनी पिछले 1 साल से मेट्रो प्लाजा में चल रही थी। लेकिन कभी भी पुलिस ने उस कंपनी का रुख करना जरूरी नहीं समझा। वहीं एसटीएफ ने इस फर्जी कंपनी पर छापा मारने के बाद ही स्थानीय पुलिस को बाद में बुलाया।


यही नहीं इस तरह की फर्जी फाइनेंस कंपनी को चलाने वाले लोगों के कई तरह के गैंग भी बने होते हैं। अपने वर्चस्व को बचाए रखने और अवैध धंधा चलाएं रखने के लिए। फर्जी फाइनेंस कंपनी को चलाने वाले लोग खून-खराबे तक उतारू हो जाते हैं। और इन फर्जी फाइनेंस कंपनियों में इनामी अपराधियों और नेताओं का भी हिस्सा होता है। और इस बात का खुलासा कई बार पुलिस ने भी किया है। यही नहीं लालकुर्ती, सदर बाजार, मेडिकल और परतापुर में भी इस तरह की कई फर्जी फाइनेंस कंपनी चल रही है। और यह उन लोगों को शिकार बनाते हैं। जो की मजबूरी में होते हैं। क्योंकि ऐसे लोग इन की मीठी-मीठी बातों में बहुत जल्दी फंस जाते हैं। और लोगों को आसानी से फंसाने के लिए यह लड़कियों को नोकरी पर रखते है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.