Loading...

​हाई कोर्ट ने खारिज किया मोदी-केजरीवाल के ऊपर बनी फिल्म को सर्टिफिकेट न देने का फैसला

0 10

मोदी और केजरीवाल के चुनावी मुकाबला को लेकर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म “बैटल ऑफ़ बनारस” को सर्टिफिकेट न दिए जाने के फैसले को हाई कोर्ट ने भी खारिज कर दिया है। दरअसल इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म को सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन और फिल्म सर्टिफिकेशन अपीलेट ट्रिब्यूनल ने सर्टिफिकेट देने से साफ इनकार कर दिया था। वही कोर्ट ने अब इस मामले को FCAT को लौटा दिया है। और साथ ही इस पूरे मामले पर 4 हफ्ते के अंदर हफ्ते ही फैसला करने के लिए कहा है।

दरअसल आपको बता दें कि यह डॉक्यूमेंट्री फिल्म साल 2014 के लोकसभा चुनाव में केजरीवाल और नरेंद्र मोदी के बीच हुए चुनावी मुकाबले के ऊपर बनी है।

वही इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म को सेंसर बोर्ड ने सर्टिफिकेट देने से साफ इंकार कर दिया। तो इस फिल्म को बनाने वाले प्रोड्यूसर FCAT के पास पहुंच गए।

वही एफसीएटी ने फिल्म प्रोडूसर की अपील को भी खारिज कर दिया। इसके बाद इस फिल्म को बनाने वाले प्रोड्यूसर हाईकोर्ट पहुंच गए। लेकिन हाईकोर्ट ने भी इस अपील को खारिज कर दिया।

Loading...

दरअसल आपको बता दें कि सर्टिफिकेशन अपीलेट ट्रिब्यूनल ने अपने फैसले में कहा कि फिल्म को देखने के बाद और सभी पक्षों को अच्छी तरह से सुनने के बाद हमारी राय यह है। कि इस फिल्म के रिलीज के लिए सर्टिफिकेट ना देने का फैसला सीबीएफसी का बिलकुल सही फैसला था। दरअसल इस फिल्म की थीम राजनीतिक पार्टियों के सभी नेताओं की ओर से दिए गए नफरत भरे और भड़काऊ भाषणों से पूरी तरह से भरी हुई है। यह फिल्म लोगों को जाति और सांप्रदायिक आधार पर बांटने की कोशिश कर रही है। साथ ही इस फिल्म में लोगों के द्वारा बेहद भद्दे कमेंट भी किए गए हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.