Loading...

कमरे में बेटी को ऐसी हालत में देख कर माँ की आंखें फटी की फटी रह गई

0 25

एक बड़ा ही अजीब मामला सुनने को मिला है। एक मां अपनी 11 साल की बेटी को घर पर छोड़ कर चली गई थी। जब वह घर लौटी तो उसने जो देखा उसकी आँखे फटी रह गई। दरअसल पूरा मामला घुटरापारा जगह का है। जहां रहने वाला ननकू यादव एक पेंटर का काम करता है। उसके परिवार में उसकी बीवी और उसके दो बेटे और एक 11 साल की बेटी है उसकी बेटी का नाम चंपा यादव है।

बृहस्पतिवार को ननकू यादव रोजाना की तरह अपने काम पर चला गया। वही सुबह फिर करीब 11:30 बजे उसकी बीवी किसी काम से घर के बाहर गई। और उसके दोनों बेटे घर के बाहर ही खेल रहे थे। इसी दौरान उसकी बेटी चंपा यादव घर में बिल्कुल अकेली थी। वही करीब आधे घंटे बाद जब उसकी पत्नी घर वापस लौटी तो उसने कूलर चालू किया और वहीं बैठ गई। पर उसने जब कमरे में अंदर जाकर देखा। जो उसने देखा वह नजारा देखकर पागल सी हो गई। उसने देखा कि उसकी बेटी घर में गाय को बांधने वाली रस्सी से फांसी पर लटकी हुई थी। और उसकी मौत हो चुकी थी। इस नजारे को देखने के बाद में पागलों की तरह चिल्लाते हुए घर के बाहर भागी उसका शोर शराबा सुनकर उसके पड़ोसी उसके पास आ गए और उससे पूछने लगे क्या हुआ।

इसी दौरान किसी एक शख्स ने इस पूरी घटना की जानकारी कोतवाली पुलिस को दे दी पुलिस को सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। और शव को नीचे उतरवाकर पंचनामा के लिए भेज दिया। यह सब करने के बाद पुलिस ने मामले की जांच की इधर अपनी 11 साल की बेटी को खोने के बाद उसका बाप उसकी मां और उसके दोनों भाइयों का बुरा हाल था। दरअसल 11 साल की चंपा छठी क्लास की छात्रा थी।

उसके मां-बाप ने बताया कि वह खेरवार मिडिल स्कूल में पढ़ती थी। फिर उसके मां-बाप ने रोते-रोते पुलिस को बताया कि 16 जून से स्कूल खुलने वाले थे। और उन्होंने उसके लिए नई कॉपियां किताबें खरीद कर ला कर दी थी। पर उसके माता-पिता को अभी तक यह समझ में नहीं आ रहा है। कि आखिर उसने इतनी कम उम्र में आत्महत्या क्यों की। वहीं पुलिस ने जांच में पाया कि जहां छात्रा ने आत्महत्या की थी। वहां उन्हें 2 पीढ़ी भी मिले हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। और हर नए एंगल को देख रही है। आखिर क्या वजह रही होगी इतनी कम उम्र में फांसी लगाने की आखिर इतनी कम उम्र में तो बच्चा अपने अच्छे बुरे की भी नहीं समझ रखता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.